“Ustad Rashid Khan Died: सुरों का साज़, गायक के राजा Ustad Rashid Khan का दुनियाभर में शोक: देशभर के नेताओं ने जताया गहरा दुख”

Kamaljeet Singh

Ustad Rashid Khan Died: आपको सूचित करना हमारी दुखद सूचना है कि हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के महान उस्ताद राशिद खान जी का मंगलवार को प्रोस्टेट कैंसर के कारण आकस्मिक निधन हो गया। उनकी अद्वितीय आवाज़ ने अनगिनत श्रोताओं को मोहित किया था। इस दुखद क्षण में, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने अपना गहरा शोक व्यक्त किया है। उनकी आत्मा को शांति मिले।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी भावनाएं साझा कीं हैं। सोशल मीडिया पर उन्होंने लिखा, “उस्ताद राशिद खान के निधन से मुझे बहुत दुःख हुआ है। वे भारतीय शास्त्रीय संगीत के महान हस्ती थे और उनकी अद्वितीय प्रतिभा ने हमारी सांस्कृतिक दुनिया को समृद्ध किया। उन्होंने संगीत के प्रति अपना पूरा समर्पण दिखाया और हमें प्रेरित किया। उनकी कमी से एक बड़ा खाली स्थान बन गया है। मैं उनके परिवार, शिष्यों और सभी प्रशंसकों के साथ हूं और उनके प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं।”

Ustad Rashid Khan Died: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने क्या कहा?

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने आपको बताया, “हिंदुस्तान के मशहूर शास्त्रीय संगीत गायक उस्ताद राशिद खान के निधन से मुझे बहुत दुःख हुआ है। उन्होंने पद्म भूषण से सम्मानित रहकर संगीत में अपनी अद्वितीय प्रतिभा का प्रदर्शन किया।”

राष्ट्रपति ने जारी किये गए संवेदना भरे शब्दों में कहा, “उन्होंने शास्त्रीय संगीत के क्षेत्र में समृद्धि भरी विरासत छोड़ दी हैं। मैं उनके प्रियजनों और प्रशंसकों के साथ इस दुःख की घड़ी में हूँ और उनके प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करती हूँ।”

Ustad Rashid Khan Died: ममता बनर्जी क्या बोलीं?

गायक राशिद खान के असत्ता में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने व्यक्तिगत शोक जताते हुए कहा, “मैंने उनके चले जाने की खबर सुनी है, और यह हम सभी के लिए एक बड़ी क्षति है, विशेषकर संगीत समुदाय के लिए. मुझे उनके निधन पर गहरा दुख है, और मेरे मन में यह विश्वास नहीं हो रहा कि वह अब हमारे साथ नहीं हैं.”

ममता बनर्जी ने जोर से कहा, “हमारा बंधन उनसे बहुत गहरा था, वे हमें बहुत प्यारे थे. हम नियमित रूप से उनसे मिलते रहते थे और उनके परिवार के साथ हमेशा संपर्क बना रहता था.” उन्होंने बताया कि 10 जनवरी को राशिद खान के शव को सरकारी सांस्कृतिक परिसर में ले जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी जाएगी और उन्हें राजकीय सम्मान भी मिलेगा.

बनर्जी ने कहा, ”हम और हमारा मंत्रिमंडल उनके परिवार के साथ खड़ा रहेगा। इसके बाद, उसका पार्थिव शरीर नकटला के घर से गुजरकर उसके अंतिम संस्कार के लिए ले जाया जाएगा, और फिर उसका अंतिम साक्षात्कार टॉलीगंज कब्रिस्तान में होगा.” उन्होंने अपनी श्रद्धांजलि को सोशल मीडिया पर भी साझा किया.

Ustad Rashid Khan Died: मल्लिकार्जुन खरगे क्या बोले?

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, ”हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के प्रसिद्ध गायक और पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित उस्ताद राशिद खान जी के निधन से मुझे गहरा दुख हुआ है। उनकी अनोखी शैली ने सार और शुद्धता का संगीत करने में अपने आप में एक विशेषता बनाई। वे बिना समकालीन संगीत को खोए, लाखों लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। मैं शोक संतप्त परिवार और उनके प्रशंसकों के प्रति गहरी संवेदनाएं भेजता हूं।”

राशिद खान, जो आपको बता दे कि उन्होंने पिछले चार सालों से प्रोस्टेट कैंसर का सामना किया, वह बहुत शानदार अभिनेता थे और उम्र के 55 वर्ष में हमारे बीच से चले गए। उनके परिवार में, पत्नी के अलावा उनके दो बेटे और एक बेटी भी थीं।

राशिद खान ने रामपुर-सहसवान घराने का होना एक गर्व का स्त्रोत था, और उनके घराने के संस्थापक इनायत हुसैन खान के पड़पोते भी थे। वे नहीं सिर्फ एक कलाकार बल्कि एक प्यारे परिवार के प्रति भी एक दिलचस्प और समर्पित माने जाएंगे। इनके साथी और परिवार के सभी सदस्यों के लिए हम दुआएं भेजते हैं कि उनकी आत्मा को शांति मिले।

Ustad Rashid Khan Died

Hyundai Alcazar में मिलेंगे भर भर कर फीचर्स जानिए इस कार के दमदार इंजन के बारे में, जानिए कम कीमत के बारे में।

Share This Article
Leave a comment